गुरुग्राम में दलित युवक की गोली मार कर हत्या : पुलिस बैठी निष्क्रिय
| 04 Jul 2019

अजय निर्मम हत्याकांड में दलित समाज ने दिया प्रशासन को 24 घंटे का अल्टीमेटम। प्रशासन को चेतावनी देकर नहीं उठाया शव। गिरफ्तारी नहीं तो प्रदर्शन करेगा दलित समाज।

बुधवार को वजीरपुर गांव में हुई दलित समाज के युवक अजय वाल्मीकि की हत्या से पूरे समाज में रोष फैल गया है। वीरवार को पूरी पुलिस सुरक्षा में शव का पोस्टमार्टम किया गया। दलित समाज के सैंकड़ो लोग और अखिल भारतीय भीम सेना के कार्यकर्ता दोपहर होते-होते मुर्दाघर पहुंच गए। मौके पर पहुंचे एसीपी सिटी राजीव यादव को दलित समाज और भीम सेना ने गिरफ्तारी के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए प्रदर्शन की चेतावनी दी और शव लेने से मना कर दिया है। फिलहाल शव को पुलिस सुरक्षा में मुर्दाघर में ही रखा गया है। प्रशासन ने शव को लेने के लिए दलित समाज को मनाने की कोशिश की लेकिन दलित समाज के लोग गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हुए हैं।

गांव वजीरपुर निवासी एवं अखिल भारतीय भीम सेना के जिला महामंत्री सचिन वाल्मीकि ने बताया कि यदि 24 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। सचिन ने बताया कि जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक हम शव नहीं उठाएंगे।

मौके पहुंचे भीम सेना के राष्ट्रीय प्रभारी अनिल तंवर और जिलाध्यक्ष कैलाश रंगा ने प्रशासन को चेतावनी दी कि आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होती है तो बड़ा प्रदर्शन किया जाएगा। जिसकी जिम्मेदार हरियाणा सरकार होगी।

बुधवार को अर्चित नामक एक बदमाश ने अजय वाल्मीकि की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी थी। आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है और अपने पूरे परिवार को साथ में लेकर फरार हो गया है। दलितों का आरोप है कि कुछ महीने पहले भी इन्होंने इस परिवार पर हमला किया था जिस पर सेक्टर 10ए थाने में केस दर्ज है। वजीरपुर में दलितों पर अत्याचार की अनेकों घटनाएं हो चुकी हैं। जिससे दलित समाज में रोष व्याप्त है।

एसीपी सिटी राजीव यादव ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए क्राइम टीम बनाई गई है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।