अम्बेडकर चौक पर भीम सेना का जोरदार प्रदर्शन। खांडसा रोड जाम। मांगें पूरी नहीं हुई तो पूरे शहर का चक्का जाम की चेतावनी। निगम ने बीकानेर चौक का बोर्ड हटाकर गलती मानी।
| 02 Nov 2019

अम्बेडकर चौक पर भीम सेना का जोरदार प्रदर्शन। खांडसा रोड जाम। मांगें पूरी नहीं हुई तो पूरे शहर का चक्का जाम की चेतावनी। निगम ने बीकानेर चौक का बोर्ड हटाकर गलती मानी।

गुरुग्राम। खांडसा रोड पर सेक्टर 37 व गांव खांडसा के समीप अम्बेडकर चौक मामले ने तूल पकड़ लिया है। शनिवार को भीम सेना सड़कों पर उतर आई और हरियाणा सरकार व नगर निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। कुछ दिन पहले नगर निगम ने अम्बेडकर चौक का नाम बदलकर बीकानेर चौक कर दिया था। जबकि गूगल मैप में इस चौक का नाम अम्बेडकर चौक साफ देखा भी का सकता है। मामला भीम सेना के संज्ञान में आते ही बवाल मच गया और निगम की इस तानाशाही के खिलाफ भीम सेना प्रमुख नवाब सतपाल तंवर ने आंदोलन का ऐलान कर दिया था।

शनिवार को सैकड़ों की तादात में भीम सैनिक गांव खांडसा की निर्माणधीन अम्बेडकर चौपाल में इकट्ठा हुए और खांडसा रोड पर अम्बेडकर चौक तक सड़क पर उतरकर जोरदार प्रदर्शन किया। जिससे खांडसा रोड जाम हो गया। हालांकि पुलिस प्रशासन ने ट्रैफिक को डायवर्ट कर स्थिति संभाल ली। करीब एक घंटे तक भीम सेना के पदाधिकारियों और पुलिस अधिकारियों के बीच तीखी नौंक झौंक हुई। हालत बिगड़ने से पहले नगर निगम ने अपनी गलती सुधारी और आनन फानन में बीकानेर चौक के नाम से लगाया गया अवैध बोर्ड निगम ने खुद हटा दिया। भीम सैनिकों के गुस्से को देखते हुए खांडसा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। मौके पर दो एसीपी और कई थानों के एसएचओ की डयूटी लगाई गई थी। अम्बेडकर चौक बचाओ आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए भीम सेना अम्बेडकर चौक पर जाना चाहती थी लेकिन पुलिस प्रशासन ने आगे बढ़ने की अनुमति नहीं दी। प्रशासन की तरफ से नियुक्त किए गए डयूटी मेजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार वीर प्रकाश ने ज्ञापन लिया। नायब तहसीलदार द्वारा एसडीएम हितेंद्र कुमार से भीम सेना प्रमुख नवाब सतपाल तंवर की फोन पर बात करवाने के बाद ही भीम सेना ज्ञापन देने को तैयार हुई। भीम सेना की मांग है कि उक्त चौक पर अम्बेडकर चौक का बोर्ड लगाया जाए और संविधान निर्माता भारत रत्न बाबा साहब डॉ० भीमराव अम्बेडकर जी की प्रतिमा स्थापित की जाए।

साथ ही भीम सेना ने मांग की है कि अम्बेडकर चौक का नाम बदलकर बीकानेर चौक कर देने वाले नगर निगम के अधिकारियों के खिलाफ जांच करके सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। इसके लिए नगर निगम ने 4 दिन का समय मांगा है। अखिल भारतीय भीम सेना के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष नवाब सतपाल तंवर ने चेतावनी दी है कि यह सिर्फ ट्रेलर है यदि प्रशासन ने हमारी मांगों को तय समय पर पूरा नहीं किया तो भीम सेना पूरी फिल्म बना देगी। जिसके लिए नगर निगम ही जिम्मेदार होगा। तंवर ने चेतावनी दी है कि यदि निगम ने समय रहते उनकी मांगे पूरी नहीं की गई पूरे शहर का चक्का जाम एपिसोड देखने के तैयार रहें।

प्रदर्शन में गुड़गांव के अलावा हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार, दिल्ली और अन्य राज्यों से भी भीम सैनिक पहुंचें।