मोदी –अमित ,संघ का प्रयोग हुआ विफल तो भेजा प्रतिनिधिओ को शाहीन बाग़
| 15 Feb 2020

जन उदय : नागरिकता कानून भारत के सविंधान की हत्या करके बनाया गया जिसकी पैरवी बिकाऊ गोदी मीडिया लोगो को भ्रमित करके करता रहा है इसके अलावा इस कानून का विरोध करने वालो पर जिस तरह कानूनी अत्याचार हो रहा है वो भारत को पूरी दुनिया बदनाम कर रहा है लेकिन भाजपा सरकार बहुमत की आड़ में आतंकी रकार बन गई जिसे न लोकतंत्र की चिंता है , और न ही देश की जनता की

छोटे छोटे छ साल के बच्चो पर देशद्रोह का मुकदमा दायर हो रहा है कोई कुछ बोले तो जेल में डाला जा रहा है , गोली मारी जा रही है राष्ट्रिय सुरक्षा कानून लगाया जा रही है स्कूल कॉलेज , सडक , संसद , दफ्तर अदालत हर जगह इनका आतंक फैला हुआ है

दिल्ली के चुनाव में जिस तरह गोली मारो , कान्त लगाओ और नफरत भरे नारे दिए गए भाषण दिए गए भाजपा के नेता किसी बेलगाम कुत्ते की तरह भोंक भोंक कर नफरत फैला रहे थे लेकिन न तो कोई अदालत और न ही चुनाव आयोग इनको रोक पा रहा था

देश नहीं पूरी दुनिया में नागरिकता कानून के खिलाफ पदर्शन आज तक चल रहे है इनमे शाहीन बाग़ की महिलाओं का आन्दोलन पूरी दुनिया में कई प्रतीकों के रूप में पहुचा है इस आन्दोलन की सबसे बड़ी बात सबसे लंबा कोई भी महिला आन्दोलन है , और इस आन्दोलन की वजह से दिल्ली की सत्ता यानी चुनावों में भाजपा के हर प्रपंच इनके सामने फेल रहे

दिल्ली के चुनावों के बाद ये भारत सरकार की हार मानी जाएगी की इतने दिनों के बाद अमित शाह जो गृह मंत्री है अपने प्रतिनिधिओ को शाहीन बाग़ भेजने का फैंसला किया है , सरकार इस वक्त मानसिक रूप से घबरा गई है , हलांकि सरकार का गोदी मीडिया यह कह कर बता रहा है की शाहीन बाग़ के लोग अमित शाह से मिलने जाएंगे .. खैर कुछ भी और इस मुलाक़ात का फैसला भी कुछ भी हो लेकिन एक बात साफ़ है सरकार पूरी तरह घबरा गई है