फ्लिपकार्ट की धोखाधड़ी : मुसाफिर बैठा
| 04 Oct 2016

मित्रो! मैं फ्लिप्कार्ट की धोखाधड़ी का शिकार हुआ हूँ। नीचे विस्तार से व्यथा-कथा लिख रहा हूँ। आप भी आगाह हो लें मेरी। परेशानी के उदाहण से। और, उचित व न्यायोचित समझें तो इस ठगी एवं धोखाधड़ी की घटना को फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सऐप, ब्लॉग, अखबार आदि के जरिये प्लीज फैलाएँ, एक दूसरे को share करें।

कल 12 बजे रात बाद से जो the big billion days फ्लिप्कार्ट ऑनलाइन सेल के अंतर्गत redmi 3s prime स्मार्टफोन बेचा गया वह मैं फ्लिप्कार्ट के मोबाइल ऐप के जरिये खरीदने के लिए समय से पहले ही तैनात हो गया था, पर मुझे फोन तो नहीं ही दिया गया है पर मेरे पासबुक एकाउंट से आठ बार में कुल ₹64234 काट लिए गये। वे पैसे अबतक लौटे नहीं है। कस्टमर केयर एक्जेक्युटिव से पूछा तो बताया गया कि आपकी तरफ से multiple order प्लेस करने के कारण यह गड़बड़ी हुई। सवाल उठता है कि जब बार बार ट्रांसेक्शन स्वीकार किया गया तो एक भी ट्रांजेक्शन के लिए ऑर्डर क्यों नहीं लिया गया है? आप ऐसे कैसे कर सकते हैं कि एकाउंट से पैसे काटते जाएं और कह दें कि भारी मात्रा में ऑर्डर प्राप्त हो जाने के कारण ऑर्डर कैंसिल करने पड़े? आपने ऑर्डर एक्सेप्ट किया ही क्यों? और यदि नहीं एक्सेप्ट किया तो पैसे कैसे काट लेंगे? और पैसे काट कर पांच छह दिन कैसे रख लेंगे? जब किसी ग्राहक का कोई ऑर्डर लिया ही नहीं गया तो उसके खाते से 5-6 दिनों के लिए पैसे निकाल क्यों लिए जाएंगे। यह छल एवं बेईमानी भरा मनमानी खेल आप कैसे कर सकते हैं?

मुझे लगता है कि फ्लिप्कार्ट ने एक चालाक खेल खेला है, गंदा धंधा किया है इस विशेष बिक्री अभियान के दौरान पैसे कमाने का।
मान लीजिये कि छह दिनों तक चलने वाले इस ऑनलाइन सेल में यदि 10 हजार ग्राहकों के 50-50 हजार रुपए भी छह-सात दिनों के लिए यदि फ्लिप्कार्ट अथवा उसके बिजिनेस पार्टनर बैंक के खाते में करोड़ों रुपए के रूप में ग्राहकों के बैंक खाते से कट कर जमा हो जाते हैं तो इस विपुल राशि पर भारी ब्याज मुफ्त में मिल जाएँगे।

फ्लिप्कार्ट की इस बदमाशी और लापरवाही के चलते न तो मैं वह फोन खरीद सका और न ही फ्लिप्कार्ट अथवा अन्य शौपिंग साईट पर चल रहे ऑफर को अन्य चीजों की खरीद के लिए avail कर पा रहा हूँ। और, ऐसा ठगी और धोखे का खेल सैकड़ों ग्राहक के साथ किया गया होगा।

मैं कल रात से ही व्यथित हूँ। फ्लिप्कार्ट के प्रति गुस्से से उबल रहा हूँ। क्या फ्लिप्कार्ट की यह गैरजिम्मेदाराना हरकत FIR करने लायक नहीं है? क्या मुझे न्याय के लिए उपभोक्ता फोरम में नहीं जाना चाहिए? बिना किसी सेवा के खाता से पैसे ऑनलाइन काटे गये हैं। क्या यह मामला केन्द्रीय उपभोक्ता फोरम और प्रादेशिक उपभोक्ता फोरम दोनों में लिया जा सकेगा? मुझे फ्लिपकार्ट से हर हाल में हर्जाना चाहिए।